Bhajan

बापू मेरी आत्मा – Bhajan

तुम ईष्ट हो परमात्मा , बापू मेरे मेरी आत्मा ।

मैं दीन हूँ तुम दीनानाथ , भक्तों के रहते हो साथ
सुनकर प्रभु करूण पुकार , धरती पर लीन्ह अवतार
तुम ईष्ट हो परमात्मा , बापू मेरे मेरी आत्मा ।

योगेश्वर धर्म प्रणेता , लोक लाडले ब्रह्मवेत्ता
युग प्रवर्तक ह्रदय विजेता , भाव की माला दास ये देता
तुम ईष्ट हो परमात्मा , बापू मेरे मेरी आत्मा ।

मधुरम तेरी मुस्कान है , शरणं हुआ ये जहान है
गुंजन हुआ “शुभ” गान है , आये धरा पर भगवान है
तुम ईष्ट हो परमात्मा , बापू मेरे मेरी आत्मा ।

हम पर तेरा उपकार है , शरण में आये वो भव पार है
“शुभ” तेरी उपस्थिति है , सर्वोच्च साँई की स्थिति है
तुम ईष्ट हो परमात्मा , बापू मेरे मेरी आत्मा ।

ॐ श्री सतगुरु चरण कमलेभ्यो नमः

Advertisements
Standard

Your Opinion

Please log in using one of these methods to post your comment:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s