जिस औषधी प्रयोग से शरीर में नयी कोशिकाएँ उत्पन्न होकर निरामय दीर्घायुष्य की प्राप्ति होती है, उस प्रयोग को कायाकल्प कहते हैं। आयुर्वेद में कायाकल्प के अनेक प्रकार के प्रयोगों का वर्णन मिलता है।
आँवला, भांगरा, तिल व पुरान गुड़ के विधिवत सेवन से शरीर का कायाकल्प हो जाता है। यह कायाकल्प शरीर को नवजीवन प्रदान करता है।
कायाकल्प विधिः 100 ग्राम आँवला चूर्ण, 200 ग्राम भांगरा चूर्ण, 200 ग्राम पिसे हुए काले तिल व 1 वर्ष पुराना गुड़ अथवा शक्कर 400 ग्राम- इन सबको मिला लें।
प्रतिदिन प्रातः 11 ग्राम मिश्रण पानी के साथ लें। उसके बाद 2 घण्टे तक कुछ भी न लें। फिर दूध पियें। भोजन में दूध व चावल लें। इस प्रयोग के दौरान केवल दूध अथवा दूध-चावल का ही सेवन करना आवश्यक है। दूध देसी गाय का हो व साठी के चावल हों तो उत्तम।
लाभः कल्प शुरू करने के 1 माह बाद लाभ दिखायी देने लगते हैं। 1 महीने में सभी प्रकार के पेट के विकार ठीक हो जाते हैं। तीन महीने सेवन करने से वाणी अत्यन्त मधुर हो जाती है। स्मरणशक्ति बढ़ने लगती है। शारीरिक पीड़ा, जोड़ों का दर्द, अनिद्रा और चिड़चिड़ापन मिट जाता है।
अगर 1 वर्ष तक इसका विधिवत सेवन किया जाये तो सफेद बाल काले हो जाते हैं। दाँत मृत्युपर्यन्त दृढ़ रहते हैं। त्वचा झुर्रियों से रहित हो जाती है। श्रवणशक्ति व नेत्रज्योति तीव्र हो जाती है। बल, वीर्य, बुद्धि व स्मृति में वृद्धि होकर चिरयौवन व दीर्घ आयुष्य की प्राप्ति होती है। ईश्वर-उपासना, दानशीलता, सदाचार, परोपकार, व ब्रह्मचर्य का पूर्ण पालन करने से इस कल्प के संपूर्ण लाभ प्राप्त होते हैं।

खांसी किसी भी प्रकार की हो, दम्मा में आराम, बुखार में आराम , धातु सम्बन्धी दुरबलता गायब, पेट की सभी बीमारियाँ , मासिक धर्म की तकलीफ, सुजन आदि में आराम, पानी पड़ने की बीमारी में आराम….
हरड बरड़(बेहडा ) और आंवला (समभाग पाउडर) इस को त्रिफला बोलते , ये त्रिफला पाउडर+शहेद+काले तिल का तेल समभाग कर के रसायन बना के रखे कांच की बरनी में, (प्लास्टिक की बरनी में नही रखे)…सुबह शाम 10-10gram ले , गुनगुने पानी के साथ ले…कायाकल्प हो जाएगा..उन दिनों में खट्टे, तेल, मिर्च मसालेवाले चीजो से दूर रहे तो 100% फायदा होगा..ये सस्ता सरल कायाकल्प है…शरीर की बेकार कोशिकाएं बाहर और नई कोशिकाओं का निर्माण होगा….

 

 

 

 

Advertisements
health, Mangalmay Channel

कायाकल्प – शरीर में नए कोशिकाओं का बनना

Image

One thought on “कायाकल्प – शरीर में नए कोशिकाओं का बनना

Your Opinion

Please log in using one of these methods to post your comment:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s