The Fact

Christian Missionaries are attacking Hindu Saints Like Asaramji Bapu – Pandit Somdatt Kaushik

pandit somdatt kaushik
श्री सोमदत्त कौशिक ने कहा है कि हमारे हिन्दू धर्म को तोड़ने के लिए विदेशी शक्तियाँ बहुत तरीकों से काम कर रही हैं। हमारे आस्था के केन्द्रों पर कुठाराघात किया जा रहा है। पहले कई मंदिरों को तोड़ा गया और अब जो साधु-संत हैं उन पर प्रहार किया जा रहा है। संत आशारामजी बापू जो पूज्य हैं, उनको बलात्कारी की संज्ञा दे रहे हैं। मेरे विचार में बापूजी हिन्दू धर्म के प्रतिपालक हैं और इनके प्रति करोड़ों लोगों की जो आस्था है, वह सत्य है। जो इनके ऊपर आरोप लगाये गये हैं, वे निराधार हैं। कृपालुजी, नित्यानंदजी, शंकराचार्यजी इत्यादि कई साधुओं पर जो पहले आरोप लगाये गये थे, वे सब बेबुनियाद साबित हुए।
उन्होंने आगे कहा है कि इन सबके पीछे जो शक्तियाँ लगी हैं उनका यही उद्देश्य है कि बार-बार हिन्दुओं के जो आस्था-केन्द्र हैं, उन पर प्रहार करो तो एक करोड़ लोगों में से एक लाख भ्रमित होंगे, 10 हजार की आस्था कम होगी, हजार धर्म-परिवर्तित हो जायेंगे व हजार हिन्दुओं के दुश्मन बन जायेंगे। यदि कोई एक हिन्दू अपने धर्म को छोड़ के दूसरे धर्म में परिवर्तित होता है तो उसका मतलब यह है कि हिन्दू धर्म का एक दुश्मन पैदा हुआ। और आज ये हिन्दू धर्म के हजारों दुश्मन पैदा करना चाहते हैं, जिसमें ये कभी कामयाब नहीं होंगे क्योंकि इस देश में बापूजी जैसे संत हैं जो जनता को शांति व मार्गदर्शन दे रहे हैं। हिन्दुस्तानियों को बापूजी पर हो रहे अत्याचारों का विरोध करना चाहिए और संस्कृति-रक्षा हेतु बापूजी को सहयोग देना चाहिए।

Advertisements
Standard

Your Opinion

Please log in using one of these methods to post your comment:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s